ब्रेकिंग न्यूज़
COVID 19 अन्य छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग न्यूज़

कोरोना का खतरा बढ़ा:छत्तीसगढ़ में शनिवार को 359 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई: रायपुर में सबसे ज्यादा 44 संक्रमित मिले, शुक्रवार को सिर्फ 22 मरीज मिले थे

रायपुर

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के आंकड़ों का उलटफेर जारी है। शनिवार को प्रदेश भर में संक्रमण के 359 नए मामले सामने आए हैं। इसी एक दिन में 487 लोगों ने कोरोना को मात दिया। प्रदेश भर में तीन मरीजों की मौत भी हुई है। सबसे ज्यादा 44 मरीज रायपुर में मिले। पिछले एक महीने में यह राजधानी में मिले मरीजों की सर्वाधिक संख्या है। इससे पहले 12 जून को यहां 49 मरीज मिले थे। यहां शुक्रवार को 22 संक्रमित मिले थे।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को प्रदेश भर में कोरोना के 31 हजार 481 टेस्ट हुए थे। पांच जुलाई को तो रायपुर में केवल 10 मामले मिले थे। नए मरीजों को मिलाकर रायपुर में अब सक्रिय मरीजों की संख्या 234 हो गई है। एक दिन पहले यह आंकड़ा केवल 200 तक सीमित था। प्रदेश के सबसे संक्रमित जिलों की सूची में प्रदेश की राजधानी वाला यह जिला बाहर था। लंबे अंतराल के बाद संक्रमण के ऐसे मामले सामने आने के बाद प्रशासन भी चिंतित है।

शुक्रवार को बीजापुर और सुकमा जिले में प्रदेश के सर्वाधिक 44-44 मरीज मिले थे। शनिवार को बीजापुर में 41 और सुकमा में 29 नए मरीज मिले हैं। सक्रिय मरीजों की संख्या के हिसाब से बीजापुर, सुकमा, जांजगीर-चांपा, दंतेवाड़ा और बस्तर पांच सबसे अधिक संक्रमित जिले बने हुए हैं।

एक प्रतिशत से नीचे पहुंची साप्ताहिक संक्रमण दर
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कोरोना की संक्रमण दर कम हो रही है। 3 वे 9 जुलाई के एक सप्ताह में यह एक प्रतिशत से नीचे रही है। प्रदेश के 28 में से 17 जिलों में संक्रमण दर एक प्रतिशत से कम रही है। वहीं 11 जिलों में यह एक से दो प्रतिशत के बीच है। प्रशासन को लगता है कि यह काफी हद तक नियंत्रित स्थिति है। जैसे-जैसे टीकाकरण होता जाएगा संक्रमण की दर और कम होगी।

रायपुर में संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच बाजारों की इस भीड़ से संकट बढ़ता दिख रहा है।
रायपुर में संक्रमितों की बढ़ती संख्या के बीच बाजारों की इस भीड़ से संकट बढ़ता दिख रहा है।

अभी 4862 मरीजों का इलाज जारी
अभी तक प्रदेश के 9 लाख 97 हजार 785 लोगों को कोरोना का संक्रमण अपनी चपेट में ले चुका है। इसमें से 9 लाख 79 हजार 448 लोग ठीक हुए हैं। 13 हजार 475 लोगों की जान चली गई। शनिवार को जिन तीन मरीजों की मौत हुई वे बलौदा बाजार, जांजगीर-चांपा और बस्तर जिलों के थे। प्रदेश भर में अभी भी 4 हजार 862 लोगों का इलाज होम आइसोलेशन अथवा अस्पतालों में जारी है।

30 प्रतिशत आबादी को लगा टीके का कम से कम एक डोज
छत्तीसगढ़ में अब तक एक करोड़ 3 लाख से अधिक लोगों को कोरोनारोधी टीके का कम से कम एक डोज लग चुका है। यह आबादी का करीब 30 प्रतिशत है। आबादी का 6 प्रतिशत तबका ऐसा है, जिन्हें इस टीके के दोनों डोज लग चुके हैं। डॉक्टरों का कहना है, रोकथाम के उपायों का कठोरता से पालन करने के साथ टीकाकरण ही संक्रमण को बढ़ने से रोक सकता है।

संबंधित पोस्ट

मरवाही-बेलगहना के जंगल में लगी आग:सैंकड़ों पेड़-पौधे जलकर राख, कुछ साल पहले ही कराया गया था पौधरोपण; सूचना के बाद भी नहीं पहुंची वन विभाग की टीम

Khabar 30 din

पदोन्नति में एससी/एसटी आरक्षण पर संसदीय समिति ने बीएसएनएल और दूरसंचार विभाग को फटकारा

Khabar 30 din

डिजिटल अपराध:हर साल साइबर हमले बढ़ रहे; बचाव पर 9 लाख करोड़ रुपए से अधिक खर्च का भी कोई नतीजा नहीं

Khabar 30 din

कपड़े का मास्क, सर्जिकल मास्क या N95 मास्क में क्या है अंतर

Khabar 30 din

WHO चीफ ने कोरोना को लेकर दिया चौंकाने वाला बयान

Khabar 30 din

महागठबंधन की 243 सीटों के लिए सूची जारी, देखिए किसे कहां से मिला टिकट

Khabar 30 Din