ब्रेकिंग न्यूज़
COVID 19 क्राईम छत्तीसगढ़ लोकल ख़बरें सोशल मीडिया स्वास्थ्य

छत्तीसगढ़ में शराब में होम्योपैथिक दवा मिलाकर पीने से 9 लोगों की मौत, 4 अस्पताल में भर्ती; पूरी बस्ती की जांच हो रही

बिलासपुर

गांव में एकसाथ चार युवकों की मौत की सूचना किसी ने सिरगिट्टी थाना पुलिस की दी। पुलिस ने दो गंभीर युवकों को CIMS और अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया।

कोरोना से बचने के लिए कई लोग नासमझी वाले कदम उठा रहे हैं। छत्तीसगढ़ में बिलासपुर के एक गांव में कुछ युवकों ने महुए की कच्ची शराब के साथ होम्योपैथिक की ड्रोसेरा कफ सिरप मिलाकर पी ली। इससे 9 युवकों की मौत हो गई। 4 युवकों को CIMS में इलाज चल रहा है।

घटना जिले के सिरगिट्टी इलाके के कोरमी धुरीपारा गांव की है। बताया जा रहा है कि बस्ती में इस होम्योपैथिक सिरप को कई परिवारों में इस्तेमाल किया जा रहा था। लेकिन युवकों ने इसे शराब में मिलाकर पी लिया, जिससे यह जानलेवा हो गया। जान गंवाने वालों में से 4 की मौत बुधवार सुबह, 4 ने शाम तक जबकि 1 ने गुरुवार को दम तोड़ दिया।

देर रात सूचना मिलते ही पुलिस गांव में पहुंची
गांववालों ने पुलिस को एकसाथ 4 युवकों की मौत की सूचना दी। इस पर थाना प्रभारी देर रात टीम के साथ गांव पहुंच गए। पूछताछ में पूरी घटना का खुलासा हुआ इसके बाद बाकी बीमार युवकों को कुछ युवकों को CIMS में भर्ती किया गया। एक युवक की हालत गंभीर थी, जिसे अपोलो अस्पताल में भर्ती किया गया। इनमें से तीन युवकों ने इलाज के दौरान जबकि एक न गांव में ही दम तोड़ दिया। अब स्वास्थ्य विभाग ने गांव में कैंप लगाकर बस्ती के सभी लोगों की जांच शुरू कर दी है। कुछ युवक ऐेसे भी मिले हैं, जिन्होंने यह सिरप पिया था, लेकिन उन्हें कुछ नहीं हुआ।

पुलिस हिरासत में आरोपी डॉक्टर

मामले में सिरगिट्टी पुलिस ने डॉक्टर को हिरासत में लिया है। फिलहाल, उससे पूछताछ जारी है। आरोपी डॉक्टर पर गैर इरादतन हत्या का मामला चलाया जाएगा।

जिला चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर प्रमोद महाजन ने कहा कि गांव में डॉक्टरों की टीम तैनात की गई है। घर-घर जांच की जा रही है।

जिला चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर प्रमोद महाजन ने कहा कि गांव में डॉक्टरों की टीम तैनात की गई है। घर-घर जांच की जा रही है।

डॉक्टर ने कहा- सिरप नहीं प्योर फार्म होगा
होम्योपैथी के डाक्टर निशांत शुक्ला का कहना है कि युवकों ने जो पिया है वह सिरप (मदर टिंचर) नहीं होगा, बल्कि डाल्यूटर होगा। मदर टिंचर में काफी कम पोटेंसी होती है, जबकि डाल्यूटर में 90% से भी ज्यादा अल्कोहल होता है। ऐसा लिक्विड पीने से लिवर, हार्ट पर बहुत असर होता है और मौत हो सकती है।

संबंधित पोस्ट

अमित जोगी ने कहा- बस्तर कलेक्टर रजत बंसल घमंडी हैं उन्हें निष्कासित कर देना चाहिए, प्रधानमंत्री को लिखी चिट्‌ठी, बंसल बोले- कोई गलतफहमी हो गई है

Khabar 30 din

नशीली अनरेक्स कफ सिरप के साथ कुख्यात आरोपी शिवम गिरफ्तार

Khabar 30 Din

शहर में ड्रग्स सप्लाई करता था नाइजीरियाई माफिया, टैक्सी के द्वारा भेजी जाती थी ड्रग्स, रायपुर पुलिस ने मुंबई से पकड़ा

Khabar 30 Din

Govt notifies Covid-19 as disaster; announces Rs 4 lakh ex-gratia for deaths

Khabar 30 din

नक्सलियों का 21 मई को बीजापुर और सुकमा में बंद

Khabar 30 din

दिल्ली के लिए राहत भरी खबर:केजरीवाल बोले- दिल्ली में कोरोना संक्रमण काबू में; अब ICU और ऑक्सीजन बेड्स की कमी नहीं

Khabar 30 din